विक्स की भाप लेने के फायदे और नुकसान

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज हम बात करने वाले हैं विक्स की भाप लेने के फायदे और नुकसान, मौसम में बदलाव के साथ हमें सर्दी, जुकाम, खांसी हो जाती है। यह समस्या होने पर विक्स लगाने की आदत होती है। बचपन से ही हमें विक्स के बारे में पता होता है। हमारी मां, दादी, नानी सर्दी होने पर विक्स की भाप लेने को कहते हैं या खुद हमें छाती, गले, और नाक पर विक्स लगा कर देती है। आजकल ऐसा कोई नहीं मिलेगा, जिसे विक्स के बारे में  पता ना हो। विक्स लगाने से सर्दी, खांसी, जुकाम से काफी हद तक राहत मिलती है। विक्स भारत में एक बहुत ही बड़ा प्रोडक्ट है, जो हर भारतीय के घर में मिलता है।

विक्स की भाप ना सिर्फ सर्दी, खांसी में फायदेमंद होती है; बल्कि विक्स की भाप लेने से अन्य कई फायदे देखने को मिलते हैं। त्वचा की समस्याओं के लिए भी विक्स की भाप काफी हद तक असरदार होती हैं। ड्राई स्किन होने पर विक्स की भाप की सलाह दी जाती हैं। लेकिन, विक्स की भाप लेते समय कुछ सावधानियां बरतनी आवश्यक होती है। वरना, विक्स की भाप के कई नुकसान भी देखने को मिलते हैं। तो आइए दोस्तों, आज जानते हैं विक्स की भाप लेने के फायदे और नुकसान

विक्स की भाप लेने के फायदे

विक्स की भाप लेने से स्वास्थ्य को कई लाभ मिलते हैं।

१) खांसी-

खांसी की समस्या काफी आम हो गई है। कई लोगों को मौसम के बदलाव के साथ एलर्जीक खांसी देखने को मिलती है। ऐसे में विक्स की भाप लेने से खांसी में काफी आराम देखने को मिलता है। खांसी के मरीजों को दिन में दो से तीन बार विक्स की भाप लेना आवश्यक होता है। खांसी की समस्या होने पर गले में भी दर्द होता है। इसलिए, गले पर भी विक्स लगाया जा सकता है।

२) बलगम-

छाती में बलगम जमा होने को कई बार हम नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन, यह गलत बात है। छाती में बलगम जमा होने की वजह से संक्रमण का खतरा बढ़ता है और फेफड़ों पर भी उसका असर पड़ता है। ऐसे में, छाती में जमा बलगम दूर होना आवश्यक होता है। छाती में जमे बलगम को दूर करने के लिए आप विक्स की भाप का सहारा ले सकते हैं। इसके लिए, आपको विक्स की भाप मुंह से लेनी है और यह भाप कुछ देर के लिए अंदर ही रोक कर रखनी होगी। ऐसा आप लगभग ५ मिनट तक कर सकते हैं। इस तरह से भाप लेने से छाती में जमा बलगम धीरे-धीरे कम होता है और खांसी में भी आराम मिलता है।

३) जुकाम-

सर्दी, जुकाम यह काफी आम समस्याएं हैं। हमें मौसम के बदलाव के साथ या किसी चीज की एलर्जी होने पर सर्दी, जुकाम हो जाते हैं। हम कई बार उसे नजरअंदाज कर देते हैं; तो कई बार हमें कुछ करवाने की जरूरत नहीं होती है। वह अपने आप ही ठीक हो जाता है। लेकिन, अगर यह जुकाम बढ़ जाए, तो आपके लिए काफी परेशानी उत्पन्न हो जाती है। क्योंकि, जुकाम होने पर कभी कभी बोलने को भी नहीं होता है। ऐसे में, आईएस जुकाम को ठीक करने के लिए आप विक्स की भाप ले सकते हैं। विक्स में मौजूद सामग्री जुकाम और सर्दी को ठीक करने के लिए फायदेमंद होती है।

४) अस्थमा-

अस्थमा के मरीजों को सर्दी, खांसी की बहुत ज्यादा तकलीफ होती है। उन्हें कभी-कभी सांस लेने में भी तकलीफ होती है। ऐसे में, विक्स की भाप लेने से अस्थमा के मरीजों को काफी हद तक राहत मिलती है। विक्स की भाप अगर अच्छी तरीके से ली जाए, तो अस्थमा के मरीजों को छाती में जमे बलगम से काफी हद तक राहत मिलती है। अस्थमा के मरीज विक्स के भाप लेने से पहले अपने डॉक्टर से उचित सलाह जरूर लें।

५) क्लीन फेस-

वातावरण में मौजूद प्रदूषण, धुआं, धूल आदि के कारण हमारी त्वचा पर बहुत बुरा असर पड़ता है। इस कारण, त्वचा में गंदगी जमा हो जाती हैं।  इस गंदगी को हटाने के लिए हम सादे पानी से चेहरा धोते हैं; लेकिन उससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है। लेकिन, अगर आपको आपका चेहरा गंदगी से मुक्त और साफ चाहिए; तो आप विक्स की भाप का सहारा ले सकते हैं। विक्स की भाप लेने से बंद रोम छिद्र खुल जाते हैं और हमारी त्वचा बेहतर तरीके से साफ होती है। विक्स की भाप की बजाय, आप सिर्फ पानी की भाप ले कर भी अपनी त्वचा की गंदगी को हटा सकते हैं।

६) ड्राई स्किन-

ड्राई स्किन की समस्या से निपटने के लिए आप विक्स की भाप ले सकते हैं। ड्राई स्किन को नमी और गर्मी की जरूरत होती है; जो विक्स की भाप से त्वचा को मिल जाती हैं। भाप लेने से त्वचा हाइड्रेटेड रहती है; जिससे ड्राई स्किन कम होने में मदद मिलती है।

विक्स की भाप के नुकसान

गलत तरीके से विक्स की भाप लेने से नुकसान भी देखने को मिलते हैं।

१) कई लोगों को लेकर भाग लेने के बाद एलर्जी महसूस होती है।

२) भाप लेते समय पानी अगर ज्यादा गर्म हो, तो चेहरे पर जलन महसूस होती है।

३) भाग लेते समय हम हमारे सिर पर कपड़ा लेते हैं। यह कपड़ा अगर ज्यादा मोटा हो, तो सांस लेने में तकलीफ हो सकती हैं।

४) गर्भवती महिलाओं को भाप लेने से पहले डॉक्टर से उचित सलाह जरूर लेनी चाहिए।

५) अस्थमा के मरीजों को विक्स की भाप लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

६) दो साल से कम उम्र के बच्चों को विक्स की भाप नहीं देनी चाहिए।

दोस्तों, हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल होने वाला विक्स हमारी जीवन शैली का एक अभिन्न प्रोडक्ट है। सर्दी होते ही हम तुरंत विक्स लगाते हैं या विक्स की भाप लेते हैं। लेकिन, विक्स की भाप लेते समय कुछ सावधानियां बरतना जरूरी होता है; जिससे आपको इससे कोई नुकसान ना हो।

उम्मीद है, आपको आज का विक्स की भाप लेने के फायदे और नुकसान यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : नाखून चबाने के नुकसान और रोकने के उपाय

Leave a Comment

error: Content is protected !!