रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से क्या होता है

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज का हमारा विषय है रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से क्या होता है,हमारे जन्म के साथ ही हमारी जिंदगी में कुछ रिश्ते जुड़ जाते हैं। बड़ा होने के बाद कुछ रिश्ते हम खुद बनाते हैं, जैसे दोस्ती! जब हम बड़े हो जाते हैं, तब घर में हमारी शादी के बारे में बातें शुरू हो जाती हैं। हमारा जीवन साथी भी हम खुद ही चुनते हैं। हमारी शादी के बाद हमारे जीवन भर का जीवन साथी हमसे जुड़ जाता है। शादी के बाद जीवनसाथी से हम अपननी हर एक बात शेयर करते हैं; बल्कि हमारी जिंदगी ही उसके साथ शेयर करते हैं। शादी करते वक्त हम अपने लाइफ पार्टनर से सारे सुख, दुख, आने वाला हर पल साथ में बिताने के कई वादे करते हैं। 

जीवन साथी के साथ बॉन्डिंग स्ट्रांग करने के लिए विश्वास, प्रेम, आदर यह भावनाएं काफी मायने रखती हैं। इसी के साथ, शादी होने के बाद हमारा सहजीवन भी शुरू हो जाता है; जिसमें हमें एक-दूसरे की जरूरतों का भी ध्यान रखना पड़ता है। शारीरिक संबंध बनाने के बारे में आज भी लोग चर्चा करने में हिचकीचाते हैं। लेकिन, यह मुद्दा उतना ही जरूरी है; जितने दूसरे मुद्दे जरूरी होते हैं। शारीरिक संबंध बनाने से ना सिर्फ एक दूसरे का बॉन्डिंग स्ट्रांग होता है; बल्कि कई स्वास्थ्य संबंधी लाभ भी मिलते हैं। रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से स्वास्थ्य संबंधित कई फायदे मिलते हैं। तो दोस्तों, आज जानेंगे रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से होने वाले नुकसान और फायदे के बारे में।

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने के फायदे

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने वाले लोग, कम शारीरिक संबंध बनाने वाले लोगों की तुलना में अधिक व्यायाम करते हैं और संतुलित आहार लेते हैं। रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से ऐसे ही कई अन्य फायदे भी देखने को मिलते हैं।

१) इम्यूनिटी-

रोजाना तौर पर शारीरिक संबंध बनाने वाले लोगों में रोगप्रतिकारक क्षमता काफी अच्छे रहती है। ऐसे लोग काफी कम बीमार पड़ते हैं। हर रोज शारीरिक संबंध बनाने वाले लोगों में एंटीबॉडी का स्तर भी अच्छा रहता है; जिससे वह किसी भी संक्रमण से बचे रह सकते हैं।

२) स्ट्रेस-

हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्ट्रेस लेवल भी काफी नियंत्रित की जा सकती है और तनाव को अपने आप से दूर रखा जा सकता है। इसके पीछे एक साइंटिफिक रीजन हैं। रोजाना संबंध बनाते समय हम पार्टनर को गले लगाते हैं, उसे छूते हैं; जिससे फीलगुड हार्मोन्स सीक्रेट होते हैं और हमारा तनाव दूर होता है।  इसी के साथ, मस्तिष्क में यौन उत्तेजना होने पर एक रसायन सीक्रेट होता है, जो मस्तिष्क को ख़ुशी का एहसास दिलाता है। ऐसे में रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से स्ट्रेस लेवल को कम किया जाता है।

३) प्रोस्टेट कैंसर-

अध्ययन के अनुसार, जो पुरुष ज्यादा बार संबंध बनाते हैं; ऐसे पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा काफी कम हो जाता है। रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से प्रोस्टेट कैंसर जैसी बड़ी बीमारी से बचा जा सकता है। 

४) कामेच्छा में वृद्धि-

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से कामेच्छा में वृद्धि होती है। इसी के साथ, महिलाओं के योनि में सूखापन कम होता है और ब्लड सरकुलेशन सुचारू रूप से होता है।

५) हृदय स्वास्थ्य-

रोजाना संबंध शारीरिक संबंध बनाने से तनाव को नियंत्रित किया जाता है और हमारी नींद भी बेहतर होती हैं। यह दोनों ही चीजें ह्रदय के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही आवश्यक होती हैं। इसी के साथ, रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित रखा जा सकता है। ह्रदय के स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए यह बहुत ही जरूरी होता है।

६) रिश्ते की बॉन्डिंग-

हमारे समाज में शारीरिक संबंध को सिर्फ शरीर से जोड़ा जाता है। लेकिन, यह गलत बात है। शारीरिक संबंध बनाने से रिश्ते में गहराई आती है। इसमें हम ना सिर्फ शरीर से लेकिन, भावनात्मक रूप से एक दूसरे से जुड़ जाते हैं। रिश्ते की बॉन्डिंग बेहतर बनाने के लिए शारीरिक संबंध बनाना जरूरी होता है।

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने के नुकसान

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने के कई नुकसान भी देखने को मिलते हैं।

१) लत लगना-

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से उसकी लत लगने की संभावना होती है। इसी कारण, पति-पत्नी में अनबन भी हो सकती हैं और उनकी तबीयत पर भी उसका बुरा असर पड़ सकता है। इसलिए, शारीरिक संबंध बनाने से पहले अपने पार्टनर की सम्मति जरूर लें और शारीरिक संबंध बनाने को आदत ना बनाएं।

२) थकावट-

शारीरिक संबंध बनाना एक तरह की एक्सरसाइज ही होती है। इससे हमें थकावट महसूस हो सकती हैं। रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से आपको आपके पार्टनर को भी थकावट की तकलीफ हो सकती हैं। ऐसे में, आप दोनों की दिनचर्या में तकलीफ उत्पन्न हो सकती हैं और आपके काम में आपका मन ना लगना, थकावट महसूस होना जैसी समस्याएं आ सकती हैं। रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से पति-पत्नी की जिम्मेदारियों पर भी असर पड़ता है।

३) यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन-

रोजाना शारीरिक संबंध बनाने से यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है। शारीरिक संबंध बनाते समय बैक्टीरिया यूरिनरी मार्ग में आसानी से जा सकते हैं, जो यूटीआई का कारण बनते हैं। 

दोस्तों, सबसे पहले सारे शारीरिक संबंध बनाने से पहले अपने पार्टनर की सम्मति लेना बहुत जरूरी होता है। आप इस बात का ध्यान जरूर रखें और अपने सहजीवन का आनंद उठाएं। उम्मीद है, आपको आजकल रोज शारीरिक संबंध बनाने से क्या होता है यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : पॉवर नैप क्या है, फायदे और कैसे ले

Leave a Comment

error: Content is protected !!