पिगमेंटेशन के लिए घरेलू उपाय

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज हम बात करने वाले हैं पिगमेंटेशन के लिए घरेलू उपाय,आज के जमाने में बेदाग स्कीन पाना हर किसी की जरूरत हो गई है। समाज में अपना स्टेटस बनाए रखने के लिए हम अपनी सुंदरता पर काफी पैसा खर्च करते हैं। वही हम हमारी रोजाना जिंदगी में कई गलतियां करते हैं; जिनकी वजह से हमें त्वचा की समस्याओं का सामना करना पड़ता है और हम इन चीजों को नोटिस भी नहीं करते हैं। स्ट्रेस, सनबर्न, धूल, मिट्टी, वातावरण में नियमित रूप से हो रहे बदलाव और उसकी वजह से हो रहा प्रदूषण स्किन की समस्याओं के लिए जिम्मेदार साबित होते दिख रहे हैं। खानपान की बदली हुई पद्धति की वजह से हमारी त्वचा पर उसका बहुत बुरा असर पड़ता है। 

हम जल्दी कम उम्र में पिगमेंटेशन, एजिंग, पिंपल्स, डार्क स्पॉट्स इन त्वचा संबंधित समस्याओं का शिकार हो जाते हैं। त्वचा पर हुए इन बदलाव को देखकर हम काफी परेशान हो जाते हैं। खासकर महिलाएं इससे ज्यादा परेशान दिखती है। इसीलिए, इन समस्याओं से निजात पाने के लिए हम अलग-अलग प्रकार के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन, कई बार इन ब्यूटी प्रोडक्ट में मौजूद केमिकल की वजह से हमारे स्क्रीन पर उसका बुरा असर पड़ता है और हमारी स्कीन ज्यादा खराब हो जाती है। इसीलिए, पिगमेंटेशन से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू नुस्खों को अपना सकते हैं; जिनका आपको जरूर परिणाम दिखेगा।

पिगमेंटेशन के कारण

खानपान की बुरी आदतों के साथ साथ कई अन्य कारणो से पिगमेंटेशन होता है।

१) चोट लगने पर या किसी इंफेक्शन कि वजह से भी यह समस्या हो सकती हैं।

२) महिलाओं में हार्मोन का असंतुलन होने की वजह से पिगमेंटेशन हो जाता है। गर्भावस्था के दौरान एस्ट्रोजन हार्मोन ज्यादा स्त्रावित होता है; जिससे चेहरा, स्तन और पेट के निचले हिस्से में झाइयां आ जाती हैं।

३) सूर्य की हानिकारक किरणों में अधिक देर तक रहने से भी पिगमेंटेशन हो सकता है।

४) ज्यादा तनावपूर्ण जीवन जीने से भी यह समस्या उत्पन्न हो जाती हैं।

५) अपने खानपान में जंक फूड, कोल्ड ड्रिंक्स का ज्यादा सेवन करने से भी त्वचा पर पिगमेंटेशन होता है।

पिगमेंटेशन के घरेलू उपाय

पिगमेंटेशन से निजात पाने के लिए कई महिलाएं अलग-अलग तरह के केमिकल से भरे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती हैं। कई महिलाओं को इन प्रोडक्ट का साइड इफेक्ट भी दिखाई दे देता है। इसीलिए आज आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताएंगे; जिनको अपनाने से पिगमेंटेशन काफी हद तक कम हो जाता है।

१) तुलसी-

तुलसी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स के तत्व पाए जाते हैं। पिगमेंटेशन से छुटकारा पाने के लिए तुलसी के पत्तों को पीसकर उसमें नींबू की २-३ बूंदे मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। थोड़ी देर बाद ठंडे पानी से धो डालें। इस प्रयोग से आपको पिगमेंटेशन से काफी राहत मिलती है और डार्क सर्कल्स भी ठीक हो जाते हैं।

२) जीरा-

एक से दो चम्मच जीरा रोज सुबह पानी में उबाल ले। यह पानी ठंडा होने के बाद में इस पानी से अपने चेहरे को धोएं। इससे पिगमेंटेशन काफी हद तक कम हो जाता है।

३) कपूर-

चेहरे पर हुए झाइयों को ठीक करने के लिए कपूर प्रभावी होता है। इसके लिए आधा कटोरी पानी ले और उसमें कपूर डालकर घोल लें। अब इसमें मुल्तानी मिट्टी और शहद मिलाकर अच्छे से पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर लगाएं और लगभग १५-२० मिनट के लिए छोड़ दे। सूखने के बाद सादे पानी से धो लें। हफ्ते में कम से कम एक बार इसका इस्तेमाल जरूर करें। 

४) गाजर-

गाजर में बीटा कैरोटीन और आयरन होते है; जो हमारी त्वचा के लिए काफी गुणकारी होते हैं। इसी के साथ, गाजर में प्राकृतिक रूप से एंटीसेप्टिक तत्व पाए जाते हैं। इसलिए, पिगमेंटेशन की समस्या को ठीक करने के लिए गाजर का इस्तेमाल करें। इसके लिए गाजर कद्दूकस करके उसका रस निकाल लें। इस रस में एक छोटा चम्मच कच्चा दूध मिलाकर अच्छे से मिक्स कर ले। कॉटन की मदद से इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। थोड़ी देर बाद सूखने पर चेहरा ठंडे पानी से धो लें। इसका प्रयोग आप रोजाना कर सकते हैं।

इसी के साथ, आप इसका दूसरी तरीके से भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए, गाजर कद्दूकस करके उसका रस निकालें। उसमें मुल्तानी मिट्टी डालें और नींबू का रस डालकर इस पेस्ट को अच्छे से मिक्स कर ले। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर लगभग आधे घंटे के लिए ऐसा ही छोड़ दें। यह सूखने के बाद चेहरा ठंडे पानी से धो लें। इसका प्रयोग हफ्ते में एक से दो बार किया जा सकता है।

५) एलोवेरा-

एलोवेरा में ऐसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं; जो हमारी त्वचा संबंधित विकारों के लिए काफी प्रभावी होते हैं। पिगमेंटेशन को अपने से दूर रखने के लिए और ठीक करने के लिए आप एलोवेरा का अपनी त्वचा पर रोजाना इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर आपके पास एलोवेरा का पौधा है, तो आप इसे सीधे तौर से इस्तेमाल करें। इसके लिए, एलोवेरा की एक टेहनी को काट लें और उसमें से सारा पल्प निकाल ले। इस पल्प में शहद मिलाकर अच्छे से मिक्स करें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं। थोड़ी देर बाद चेहरा अच्छे से धो लें। 

६) संतुलित आहार-

पिगमेंटेशन की समस्या गलत खानपान की पद्धति की वजह से भी होती है। इसीलिए, अपना आहार हमेशा ही संतुलित रखें। आहार में हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, फलों का रस, दही, छांछ, दाल आदि का समावेश हो। इसी के साथ, विटामिन सी रिच फ्रूट्स जैसे; मौसंबी, नींबू, संतरा, कीवी इनका अपने आहार में जरूर समावेश करें। विटामिन सी हमारी त्वचा को तरोताजा और दाग धब्बे रहित बनाए रखने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

चेहरे पर झाइयां आयरन और विटामिन ए की कमी की वजह से भी होती है। इसीलिए, अपने आहार में विटामिन ए और आयरन से भरपूर पदार्थों का समावेश जरूर करें। ग्रीन टी, हल्दी वाला दूध यह ऐसे ड्रिंक्स है; जो पोषण से भरे हुए होते हैं। इसीलिए, इनका समावेश भी अपने आहार में जरूर करें।

दोस्तों, ऊपर दिए गए घरेलू नुस्खों को आजमा कर पिगमेंटेशन के समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। इसी के साथ, आप अपना आहार संतुलित बनाए रखें; जिससे अंदरूनी पोषण मिलेगा और आपकी त्वचा हमेशा ही दाग धब्बों से दूर रहेगी। धूम्रपान, शराब, तंबाकू के पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे आपकी त्वचा पर काफी बुरा असर पड़ता है और आप एजिंग की तरफ कम उम्र में ही बढ़ने लगते हैं। 

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का पिगमेंटेशन के लिए घरेलू उपाय यह ब्लॉग अच्छा लगा हो और काफी इंफॉर्मेशन दे गया हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : पायरिया के लिए बेस्ट टूथपेस्ट कौन सा होता है ?

Leave a Comment

error: Content is protected !!