पेठा खाने के फायदे और नुकसान

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप?, आज का हमारा विषय है पेठा खाने के फायदे और नुकसान, हमारे भारत देश में अलग-अलग प्रकार की सब्जियों की खेती होती हैं। भारत में मौसम के अनुसार सब्जियों की खेती की जाती है। मौसम के अनुसार, सब्जियां भी बदलती रहती हैं। इसके पिछे साइंटिफिक महत्व छुपा होता है। खास मौसम में खास मौसमी सब्जी खाने से शरीर को काफी लाभ मिलता है और हम उस मौसम में जल्द ही एडजेस्ट कर पाते हैं। जैसे, ठंड के मौसम में ज्यादातर मेथी की सब्जी का सेवन करते हैं। मेथी की सब्जी गर्म तासीर वाली होती है और इसीलिए उसका ठंड में सेवन करने से हमें काफी पोषण मिलता है। 

पेठा खाने के फायदे आपको पता हो या ना हो, लेकिन इससे बनने वाली मिठाई आप जरूर जानते होंगे। पेठा से अलग-अलग प्रकार के व्यंजन बनाए जाते हैं। विंटर मेलन को पेठा के नाम से भी जानते हैं। पेठा खाने से हमारे शरीर को बहुत सारे लाभ मिलते हैं। औषधीय गुणों से युक्त पेठा वजन कम करने के लिए, हृदय को स्वस्थ रखने के लिए, पेट की समस्याओं के लिए; ऐसे अनगिनत समस्याओं के लिए उपयोग में लाया जाता है। तो दोस्तों, आज जानेंगे पेठा खाने के फायदे और नुकसान के बारे में।

पेठा खाने के फायदे

पेठा में बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें विटामिन बी१, बी३, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, नियासिन, थियामिन जैसे विटामिन मौजूद होते हैं। इसी के साथ; इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, सोडियम, जिंक, कॉपर जैसे खनिज तत्व भी पाए जाते हैं। पेठा में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन अच्छी मात्रा में मौजूद होते हैं। इसका सेवन करने से हमारे शरीर को बहुत सारे लाभ मिलते हैं। इसी के साथ, पेठा में लगभग ९४% पानी होता है। इतने सारे पोषक तत्व हमें पेठा खाने से मिलते हैं। इसीलिए, पेठा का सेवन करना चाहिए। तो आइए दोस्तों, जानते हैं पेठा खाने के फायदे के बारे में।

१) फ्लू से दिलाए राहत-

दोस्तों, फ्लू जैसी सामान्य बीमारी कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को जल्दी प्रभावित कर लेती है। पेठा में विटामिन सी की उचित मात्रा होती है। पेठा खाने से हमारे शरीर को विटामिन सी उपयुक्त मात्रा में मिलता है और हमारी इम्यूनिटी को बढ़ावा देता है। इसी के साथ, विटामिन सी का सेवन करने से निमोनिया और फेफड़ों के संक्रमण जैसी समस्याओं की संभावना कम हो जाती हैं।

२) माइग्रेन-

माइग्रेन की वजह से सिर में बहुत ज्यादा दर्द होता है। अध्ययन के अनुसार यह माना गया है, कि विटामिन बी२ का सेवन करने से सिर दर्द और माइग्रेन के कई लक्षणों को कम किया जा सकता है। पेठा में विटामिन बी२ की मात्रा अधिक होती है। इसीलिए, पेठा का सेवन करने से आप माइग्रेन से छुटकारा पा सकते हैं।

३) स्ट्रेस-

पेठा में एल-ट्रिप्टोफान नाम का अमीनो एसिड होता है। इस अमीनो एसिड का शरीर में उत्पादन नहीं होता है और इस अमीनो एसिड की कमी की वजह से डिप्रेशन हो सकता है। पेठा में यह अमीनो एसिड उचित मात्रा में मौजूद होता है। इसका सेवन करने से हमें स्ट्रेस लेवल नियंत्रित रखने में मदद मिलती है। इसी के साथ, उत्साह को बढ़ावा मिलता है।

४) नियंत्रित वजन-

गलत खानपान पद्धति की वजह से हमारा वजन बढ़ जाता है। इसको नियंत्रित करने के लिए आप पेठा का सेवन कर सकते हैं। पेठा में फाइबर अधिक मात्रा में मौजूद होता है और कैलोरीज़ की मात्रा बहुत ही कम होती है। इसीलिए, पेठा का सेवन करने के बाद आपको पूरा पोषण मिलने के साथ-साथ आपका वजन भी नियंत्रित रहता है। पेठा में फाइबर मौजूद होता है, जो आपकी पाचन शक्ति को बढ़ावा देता है। पाचन शक्ति मजबूत होती है, तो आपका खाना ठीक से पचता है और वजन घटने में भी सहायता मिलती है।

५) हार्ट केयर-

पेठा में फाइबर अधिक होता है। पेठा का सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल और फैट्स कम अब्सोर्ब होते हैं। इसीलिए, इसको खाने से शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम की जा सकती है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से ह्रदय से संबंधित रोग हो सकते हैं। इसीलिए, अगर आप पेठा का सेवन करेंगे; तो कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होगी और आप ह्रदय संबंधित रोगों से बच सकते हैं।

६) कैंसर-

पेठा में विभिन्न प्रकार के विटामिन होते हैं। पेठा में मौजूद विटामिन सी शरीर के टॉक्सिंस बाहर फेकता है। इसी के साथ, फ्री रेडिकल्स को खत्म करता है। शरीर में फ्री रेडिकल्स की मौजूदगी ह्रदय रोग, कैंसर जैसे रोगों को बढ़ावा देटी है। पेठा में एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जिसकी वजह से आपके शरीर से फ्री रेडिकल्स और विषाक्त पदार्थ निकल जाते हैं और आप कैंसर जैसी बड़ी बीमारी से बच सकते हैं।

पेठा खाने के नुकसान-

पेठा खाने के बाद आपको कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। आइए, इनके बारे में जानते हैं।

  1. अगर आपको अस्थमा, ब्रोंकाइटिस या सर्दी होती है, तो इसका सेवन करने से बचें। पेठा कफ को बढ़ाता है, इसीलिए ठंड के मौसम में इसका सेवन कम ही करना चाहिए।
  2. अगर आपको अपच की समस्या है, तो पेठा का इस्तेमाल मिठाई के रूप में नहीं करना चाहिए।
  3. गर्भवती महिलाओं और दो वर्ष आयु से कम के बच्चों को पेठा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  4. सफेद पेठा का सेवन करने से कई लोगों को उल्टी आना,  दस्त लगना,  पेट खराब होना आदि समस्याएं हो सकती हैं।

दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

और देखें : अमृतधारा के फायदे और नुकसान

Leave a Comment

error: Content is protected !!