मिनरल वॉटर पीने के फायदे

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज हम बात करने वाले हैं मिनरल वाटर पीने के फायदे के बारे में, दोस्तों, हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पानी बहुत ही जरूरी होता है। शुद्ध पानी पीने से शरीर को कई फायदे मिलते हैं; वही अशुद्ध पानी पीने से कई सारी बीमारियों का सामना करना पड़ता है। शरीर में कई सारी महत्वपूर्ण प्रक्रियाए पानी के बिना हो ही नहीं सकती है। कम पानी पीने से शरीर डिहाइड्रेटेड हो जाता है। नल। का पानी और मिनरल वॉटर में बहुत अंतर होता है। मिनरल वाटर पीने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं। नाम से ही पता चलता है, कि यह खनिजों से परिपूर्ण पानी होता है।

इस पानी को ऐसे प्राकृतिक स्त्रोत से लिया जाता है, जहां के पानी में कई फायदेमंद मिनरल्स तत्व मिले होते हैं। प्राकृतिक स्रोत झरने और फव्वारों से मिलने वाला ये पानी उस स्थान की मिट्टी और पत्थर से मिलने वाले हेल्दी खनिजों और ऑक्सीजन से परिपूर्ण होता है। मिनरल वॉटर में पोटैशियम, मैग्निशियम, कैल्शियम,सोडियम बाय कार्बोनेट, आयरन जैसे आवश्यक तत्व पाए जाते हैं। इसीलिए, मिनरल वाटर पीने से शरीर को कई स्वास्थ्यवर्धक लाभ मिलते हैं। तो आइए, दोस्तों जानते हैं मिनरल वाटर पीने के फायदे के बारे में

मिनरल वॉटर पीने के फायदे

मिनरल वाटर में कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। हालांकि, मिनरल वाटर दाम में थोड़ा महंगा होता है; लेकिन उससे शरीर को कई सारे फायदे मिलते हैं। 

१) पाचन क्रिया-

मिनरल वाटर में मौजूद मैग्नीशियम पाचन क्रिया को बढ़ाने का काम करता है। मैग्नीशियम भोजन के बड़े टुकड़ों को छोटे टुकड़ों में तोड़ने में सहायक होता है और आवश्यक पोषक तत्वों को शरीर में अवशोषित करता है। मिनरल वाटर का सेवन करने से भोजन आसानी से पच जाता है और पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान होती है। इसी के साथ, पेट के हानिकारक बैक्टीरिया मारने में भी मैग्नीशियम प्रभावी होता है।

२) हड्डियों की मजबूती-

मिनरल वाटर में कैल्शियम और मैग्नीशियम मौजूद होते हैं। इन दोनों तत्वों से हमारी हड्डियों की संरचना में सुधार आता है और हड्डियों को मजबूती मिलती है। यह दोनों घटक हड्डियों को आवश्यक संरचना प्रदान करते हैं; जिससे हमारी हड्डियां और ज्यादा मजबूत होने में मदद मिलती है।

३) कोलेस्टेरॉल-

बॉडी में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए मिनरल वाटर का सेवन आवश्यक होता है। मिनरल वाटर में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं और बैड कोलेस्ट्रॉल को घटाते हैं। शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होने को मजबूती प्रदान होती है और हृदय संबंधित रोगों से हमें मुक्ति मिलती है।

४) इलेक्ट्रोलाइट्स संतुलन-

काम करने के बाद या किसी भी शारीरिक गतिविधि करने के बाद शरीर में पसीना आता है। इस पसीने के साथ शरीर से इलेक्ट्रोलाइट्स बाहर निकलते हैं। इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। शरीर के कई महत्वपूर्ण काम जैसे; पीएच बैलेंस, मांस पेशियों की मजबूती के लिए इंपॉर्टेंट होता है। लेकिन, पसीना आने के बाद शरीर में इलेक्ट्रोलाइट को रिगैन करने के लिए मिनरल वाटर मदद कर सकता है। मिनरल वाटर में कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं; जो शरीर में जाने के बाद इलेक्ट्रोलाइट्स का संतुलन बनाए रखते हैं। 

५) ब्लड प्रेशर संतुलन-

शरीर में मैग्नीशियम की कमी होने से ब्लड प्रेशर बढ़ता है। इसी कारण, हृदय संबंधित रोगों का खतरा बढ़ सकता है। मिनरल वाटर में मौजूद मैग्नीशियम रक्तचाप को नियंत्रित रखता है और उसे संतुलित बनाए रखता है। इसी के साथ, मिनरल वाटर में पोटेशियम और कैल्शियम होता है; जो ब्लड फ्लो को सुचारू रूप से करता है। ब्लड प्रेशर का संतुलन बनाए रखने के लिए मिनरल वाटर का सेवन करना चाहिए।

६) टॉक्सिंस बाहर निकाले-

किडनी से टॉक्सिंस शरीर के बाहर निकालने के काम में मिनरल्स काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसी के साथ, शरीर में रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने का काम भी मिनरल वॉटर करता है।

७) अन्य फायदे-

हड्डियों की मजबूती के साथ साथ, मिनरल वॉटर का सेवन करने से हार्मोन बैलेंस रहते हैं, एंजाइम्स का संतुलन बना रहता है तथा ब्लड क्लॉट्स के नियमन के लिए भी उपयुक्त होता है।

८) त्वचा की देखभाल-

जैसा कि हम जानते हैं, शरीर में पानी की उचित मात्रा रहने से त्वचा को पोषण मिलता है। पानी ना पीने से हमारा शरीर डिहाइड्रेटेड हो जाता है और त्वचा पर भी उसका बहुत बुरा असर पड़ता है। त्वचा की रंगत बढ़ाने के लिए और त्वचा में ब्लड फ्लो बढ़ाने के लिए मिनरल वाटर का सेवन जरूर करना चाहिए। इससे आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और आपकी त्वचा में निखार आता है। 

दोस्तों, हमने देखा मिनरल वाटर का सेवन करने से हमें कितने सारे शारीरिक स्वास्थ्य के लाभ मिलते हैं। इसलिए, मिनरल वाटर का सेवन कीजिए और शारीरिक स्वस्थता बढ़ाएं। हालांकि, मिनरल वाटर का अधिक मात्रा में सेवन कई बार नुकसानदायक भी साबित हो सकता है।

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का मिनरल वाटर पीने के फायदे के बारे में यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : आंखों की ज्योति बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए

Leave a Comment

error: Content is protected !!