फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म कैसे करें ?

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज हम बात करने वाले हैं फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म कैसे किया जा सकता है। इसके लिए हम कुछ घरेलू नुस्खे बताएंगे; जिनका इस्तेमाल करके आप फंगल इंफेक्शन से निजात पा सकते हैं। फंगल इनफेक्शन एक प्रकार की स्कीन संबंधित समस्या है। फंगल इन्फेक्शन बच्चों से लेकर बड़ों तक किसी को भी किसी भी आयु में हो सकता है। कफ और पित्त दोष के कारण इस समस्या का सामना करना पड़ता है। फंगल इंफेक्शन से हमें कई तकलीफें होती है।

इससे त्वचा काफी हद तक प्रभावित होती है। फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म करने के लिए सबसे पहले उसका इलाज करना बहुत जरूरी होता है। जितनी देर आप उसके इलाज में लगाओगे, उतना ही फंगल इंफेक्शन बढ़ते जाता है। यह ना सिर्फ त्वचा को, बल्कि शरीर के कई अंगों को प्रभावित करता है। इसी के साथ, टिशूज और हड्डियों को भी क्षति पहुंचा सकता है। इसलिए बेहतर है, कि फंगल इनफेक्शन होते ही उसका इलाज शुरू करवा दें। फंगल इंफेक्शन के लिए आप डॉक्टरी इलाज के साथ-साथ घरेलू नुस्खे भी आजमा सकते हैं।

फंगल इंफेक्शन के कारण

फंगल इंफेक्शन के अलग-अलग कारण होते हैं।

१) गर्म और नमी वाली जगहों पर रहना।

२) पसीने से लथपथ कपड़े पहनना।

३) पर्सनल हाइजीन मेंटेन ना रखना।

४) कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को फंगल इंफेक्शन हो जाता है।

फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म करने के घरेलू उपचार

फंगल इंफेक्शन के लक्षणों को कम करने के लिए आप कुछ घरेलू नुस्खे आजमा सकते हैं। इनसे आपको फंगल इंफेक्शन से काफी राहत मिल सकती है। यह सारे घटक प्राकृतिक होते हैं और उनसे हमें कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है।

१) टी ट्री ऑयल-

एक चम्मच नारियल तेल में आधा चम्मच टी ट्री ऑयल मिलाकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं। टी ट्री ऑयल में एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबियल और एंटीफंगल तत्व पाए जाते हैं। टी ट्री ऑयल के इस्तेमाल से फंगल इंफेक्शन के काफी लक्षणों से राहत मिलती हैं। जैसे; फंगल इंफेक्शन की वजह से आने वाली सूजन, जलन, खुजली, लालिमा आदि। फंगल इंफेक्शन के लिए से निजात पाने के लिए टी ट्री ऑयल एक बेहतरीन उपाय के रूप में देखा जाता है।

२) हल्दी-

हल्दी में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटीसेप्टिक और एंटी फंगल तत्व मौजूद होते हैं। हल्दी का इस्तेमाल करके फंगल इंफेक्शन से छुटकारा मिल सकता है। नारियल का तेल या सरसों के तेल में हल्दी को मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इससे फंगल इनफेक्शन जड़ से खत्म हो जाएगा।

३) दही-

दही को प्रोबायोटिक के रूप में देखा जाता है। जिसका इस्तेमाल फंगल इंफेक्शन के लिए काफी प्रभावी होता है। फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म करने के लिए कॉटन की मदद से प्रभावित क्षेत्र पर दही को लगा ले। आप दही का सेवन करके भी फंगल इंफेक्शन से निजात पा सकते हैं। दही में लैक्टोबैसिलस बैक्टीरिया पाए जाते हैं; जो फंगल इंफेक्शन के ऊपर अच्छा परिणाम दिखाते हैं।

४) नीम-

नीम का इस्तेमाल फंगल इंफेक्शन के लिए बहुत गुणकारी होता है। नीम में एंटीसेप्टिक, एंटी फंगल, एंटी बैक्टेरियल गुण पाए जाते हैं। नीम का त्वचा संबंधित समस्याओं के लिए औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। नीम की कुछ पत्तियां पानी में उबाल लें, उस पानी को ठंडा कर लें। इस पानी में लगभग २० मिनट के लिए प्रभावित हिस्से को डुबोकर रखें। इसका प्रयोग करने से त्वचा पर हो रही जलन, सूजन कम होती है तथा फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म करने के लिए प्रभावी होता है।

५) कपूर-

फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म करने के लिए कपूर को एक प्रभावी विकल्प में देखा जाता है। सबसे पहले फंगल इन्फेक्शन प्रभावित त्वचा को अच्छे से साफ कर ले। उसके बाद कपूर को नारियल तेल में मिलाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगा ले। सुबह नहाने के बाद और रात में सोने से पहले इसका प्रयोग करने से फंगल इंफेक्शन जड़ से खत्म हो सकता है। एक बात का ध्यान रखें, फंगल इनफेक्शन खत्म होने के बाद भी कुछ दिनों तक इस का प्रयोग करते रहे; इससे सारे बैक्टीरिया जड़ से खत्म हो जाते हैं।

६) लहसुन-

लहसुन में एंटी फंगल तत्व पाए जाते हैं। लहसुन का इस्तेमाल करने से फंगल इनफेक्शन जड़ से खत्म हो सकता है। लहसुन की १-२ कली ले और उसको अच्छे से पीस लें। इसको प्रभावित हिस्से पर लगा कर रखें। इससे आपको थोड़ी जलन हो सकती है; लेकिन वह नॉर्मल है। अगर ज्यादा जलन हो रही है, तो तुरंत पानी से धो डालें।

७) पीपल के पत्ते-

पीपल त्वचा संबंधित समस्याओं के लिए काफी गुणकारी होता है। पीपल के पत्ते पानी में डालकर उबाल लें। इस पानी को ठंडा होने दें। इस पानी में त्वचा का प्रभावित हिस्सा २० मिनट तक डुबोकर रखें। इससे फंगल इंफेक्शन की वजह से होने वाली सूजन, खुजली, जलन, लालिमा आदि लक्षणों से राहत मिलती है और फंगल इंफेक्शन जड़ से खत्म होने में मदद मिलती हैं।

डॉक्टर की सलाह

दोस्तों, फंगल इन्फेक्शन जल्दी से ठीक नहीं होता है। घरेलू नुस्खे आजमाने के बाद भी कई लोगों को इसकी परेशानी होती ही रहती हैं। इसलिए बेहतर होगा, कि आप जल्द से जल्द डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह लें। डॉक्टर आपके फंगल इंफेक्शन ग्रसित त्वचा को अच्छे से चेक करेंगे। फंगल इंफेक्शन की गंभीरता के अनुसार डॉक्टर आपको मेडिसिंस देंगे। कुछ एंटीबायोटिक मेडिसिन ओरली लेने होंगे और कुछ ऑइंटमेंट, क्रीम जो प्रभावित हिस्से को लगाने के लिए होंगे। डॉक्टरों द्वारा बताए गए दिशा निर्देशों का अच्छे से पालन करे।

दोस्तों, सबसे पहले अपनी पर्सनल हाइजीन अगर अच्छी हो, तो हमें कम से कम विकारों का सामना करते हैं। पर्सनल हाइजीन के साथ साथ हमें इम्यूनिटी का भी ख्याल रखना चाहिए। इम्यूनिटी स्ट्रांग होगी तो आपको फंगल इंफेक्शन या कोई भी इन्फेक्शन होने की संभावना कम होती है।

उम्मीद है, दोस्तों आपको आज का फंगल इंफेक्शन को जड़ से खत्म कैसे करें,यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : मसूड़ों से खून रोकने के लिए घरेलू उपचार

Leave a Comment

error: Content is protected !!