फटी एड़ियों का इलाज कैसे करे ? जानिए क्रीम के साथ

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? हम हमेशा हमारे शरीर का ख्याल रखने की कोशिश करते रहते हैं। हम हमारी स्किन का और हम हमारे चेहरे का भी ध्यान रखते हैं। लेकिन, हम हमारे पैरों का ध्यान रखना भूल जाते हैं। जिसकी वजह से फटी एड़ियों के जैसी समस्या उत्पन्न हो सकती है। जब हमारे पैरों की त्वचा रूखी सूखी हो जाती है, तो उसमें दरारें पड़ जाती हैं और फटी एड़ियों की समस्या उत्पन्न हो जाती है। यह समस्या कभी कभी गंभीर रूप धारण कर सकती है। जैसे, पैरों में सूजन, दरारें तथा दर्द भी होता है। समस्या गंभीर होने पर इंफेक्शन होने का डर भी होता है। इस दर्दनाक परिस्थिति से गुजरने से अच्छा है कि हम पैरों की देखभाल रखें।

एड़ियों में होने वाले दरारों की वजह से या फिर फटी एड़ियों की वजह से हम मनचाहा फुटवियर या फिर चप्पल, सैंडल नहीं पहन सकते। क्योंकि वह बहुत ही अटपटा लगता है और हम उतना कंफर्ट महसूस नहीं कर सकते। फटी एड़ियों के बहुत सारे घरेलू इलाज भी है और ज्यादा तकलीफ होने पर आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं। तो चलिए दोस्तों, आज हम जानेंगे फटी एडियो के कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में!

पैरो की एडिया क्यों फटती है ?

पैरो की एडिया
पैरो की एडिया

दोस्तों पैरों के एड़ी के निचले हिस्से जी  त्वचा बहुत अधिक पतली हो जाती है, तो यह आपकी एड़ी पर विदर नामक दर्दनाक दरारें छोड़ देती है। वह दरारें चलते वक्त बहुत दर्द करती है, और पैरो में जख्म भी पैदा करते हैं। एड़ी में दरारें आमतौर पर त्वचा के सूखेपण के कारण होती हैं | शरीर में पानी की बहुत कम हो जाती है , उस वक्त पैरो के एडियो में दरारे होती है | और वह त्वचा को बहुत गंभीर रूप से फाड़ देती है |

फटी एड़ियों के कारण

फटी एड़ियों के कई कारण हो सकते हैं।

१) असंतुलित आहार- दोस्तों, आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हम फास्ट फूड खाना पसंद करते हैं। क्योंकि वह जल्दी उपलब्ध हो जाता है और हमें उसे पकाने में देर भी नहीं लगती है। लेकिन ऐसे खाने में विटामिन्स तथा प्रोटीन जैसे तत्वों कि कमी होती है। इसीलिए हमारे शरीर को पोषण बहुत ही कम मिलता है। अगर हम हमारे खाने में ताज़े सब्जी और फलों का उपयोग नहीं करेंगे, तो हमें पूरा पोषण नहीं मिलता है और जिसकी वजह से हमारी स्किन डैमेज हो सकती है। इसी वजह से फटी एड़ियों की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है। इसी के साथ हम दूध का सेवन कम करें, तो भी फटी एड़िया उत्पन्न हो सकती है। क्योंकि दूध हमारे शरीर को पोषित और मॉइश्चराइज करता है।

२) अधिक गर्म पानी से नहाना- कई लोगों को बहुत ज्यादा गर्म पानी से नहाने की आदत होती है। इससे हमारी स्किन पर बहुत ही विपरीत परिणाम होता है। जब भी हम अधिक गर्म पानी से नहाते हैं, तो उसके बाद हमारी स्किन ड्राई होना शुरू हो जाती हैं। जिससे हमारी स्किन से नमी कम हो जाती है। जिसकी वजह से फटी एड़िया पैदा हो सकती हैं। ज्यादा देर तक गर्म पानी में पैर रखने से भी फटी एडिया उत्पन्न हो सकती हैं।

३) पैरों की देखभाल ना करना- रोजमर्रा की जिंदगी में हम बहुत बिज़ी होते हैं। काम के सिलसिले में कभी-कभी हमें एक ही जगह पर ज्यादा देर तक खड़ा होना पड़ता है और कभी-कभी हम चप्पल और जूतों के बिना ही काम करते हैं। इसलिए भी फटी एडियो की समस्या आ सकती है। इस सब भागदौड़ में हम पैरो का ध्यान नहीं रख पाते।

४) शारीरिक बीमारी- हर इंसान छोटे बड़ी बीमारी से लड़ रहा है। जैसे डायबिटीज, थाइरॉएड या फिर त्वचा की समस्याएं आदि। डायबिटीज में पेशेंट का ब्लड शुगर लेवल संतुलित नहीं रहता है। जिसकी वजह से ऐसे मरीजों की पैरों की नसें डैमेज हो जाती है और उससे फटी एड़ियों की समस्या हो सकती है। थायरॉयड समस्या होने से भी एड़ियां फटने की संभावना होती है। तथा कुछ लोगों को स्किन प्रॉब्लम्स भी रहती हैं। जिसकी वजह से पैरों में दरारें पड़ सकती हैं।

पैरों की एड़ियां फटने से क्या नुकसान होता है ?

  • पैरों की एड़ियां फटने से पैरों में बहुत अधिक मात्रा में दर्द होता है, उसके कारण हमें चलना मुश्किल हो जाता है |
  • फटी एड़ियों में से कभी कबार खून भी निकलता है |
  • पैरों की एड़ियां फटने के कारण उस जगह पर जख्म हो कर वह बहुत दर्द करता है, और खून निकलता है जिसके वजह से हमे कमजोरी होती है |
  • चलने के वजह से एडिया और भी ज्यादा फट जाती है |

फटी एड़ियों के लिए घरेलू उपाय क्या है ?

दोस्तों अगर आपको फटी एडियो की परेशानी है, तो आप उन्हें घरेलु उपाय से आसानी से दूर भगा सकते है | जैसे कि –

  1. फटी एडियो में आप अलोवेरा जेल लगा सकते है |
  2. अगर आप रोजाना शहद का इस्तेमाल करते हो तो आपकी त्वचा मुलायम हो जाती है |
  3. रोजाना सोते समय आप फटी एडियो में घी और दूध की मलाई लगाओगे, तो वह सबसे अधिक असरदार उपाय करते है | उनके वजह से फटी एडिया जल्द ही ठीक हो जाती है |
  4. अपने शरीर की पानी की मात्र को नियंत्रित रखे | जिसके कारन शरीरी की त्वचा गीली रहती है | उसके कारन एडियो की परेशानी नहीं होती है |

फटी एड़ियों का इलाज़

ऐसे कई घरेलू नुस्खे हैं, जिनसे फटी एड़ियों की समस्या से निजात पा सकते हैं।  फटी एड़ियों की समस्या ज्यादातर शरीर में नमी की कमी कि वजह से होती है। हमारे पैरों के तलवों की त्वचा मोटी तथा सेंसेटिव होती है। अगर वहां तक शरीर में पैदा होने वाली कुदरती नमी ना पहुंची, तो वहां दरारें आती हैं।

१) गुलाब जल- गुलाब जल त्वचा के लिए ठंडा होता है। गुलाब जल के साथ ग्लिसरीन मिलाकर उसे फटी एड़ियों पर लगा लें। गुलाब जल त्वचा पर टोनर की तरह काम करता है जिससे त्वचा मुलायम होती है।

२) नीम- नीम एक बहुगुणी औषधि है, जो हमारे स्किन के लिए उपयुक्त होती है। नीम में एंटीबैक्टीरियल गुण पाएं जाते हैं। नीम के पत्ते और हल्दी का पेस्ट बनाकर उसे फटी एड़ियों पर लगाए। थोड़ी देर बाद गुनगुने पानी से धो लें। इसका इस्तेमाल दिन में १-२ बार करे। हल्दी में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो पैरों में होने वाले इंफेक्शन को रोकता है।

३) नारियल तेल- रोज रात को नारियल के तेल को हल्का सा गुनगुना गर्म करके फटी एड़ियों पर लगाए और हल्के हाथों से मसाज करें। इससे आपकी त्वचा मुलायम होगी तथा आपको आराम भी मिलेगा। सुबह उठकर पैरों को पानी से धो लें। यह उपाय १०-१५ दिनों तक करें।

४) ठंड में फटी एड़ियों की देखभाल- ठंड में हमारी त्वचा अतिरिक्त ड्राई होती है। ऐसे में उसका ज्यादा ख्याल रखना चाहिए। ठंड में फटी एड़ियों पर पके हुए केले को लगाएं और २० मिनट तक छोड़ दें। उसके बाद पानी से धो लें। केला स्किन को नमी प्रदान करता है। यह एक आसान उपाय है। वेसलीन जेली स्किन को मॉइश्चराइज करता है। इसका उपयोग आप फटी एड़ियों पर कर सकते हैं।

५) पेडीक्योर- अगर आपकी पैरों कि त्वचा में ज्यादा दरारें है, तो आप पेडीक्योर घर पर भी करवा सकते हैं। या किसी अच्छे ब्यूटीशियन के पास जाकर पेडीक्योर करवा सकते हैं। यह एक साधारण तथा सरल उपाय है।

६) डॉक्टर की सलाह- अगर आपकी फटी एड़ियों में दर्द हो, उसमें से खून निकल रहा हो तो आप अपने डर्मटॉलॉजिस्ट की सलाह लें, क्योंकि यह बहुत ही गंभीर लक्षण हैं। डॉक्टर आपको कुछ दवाएं, क्रीम तथा लोशन देंगे। उनके प्रयोग से आपको जरूर आराम मिलेगा।

फटी एड़ियों के लिए क्रीम के नाम :

फटी एड़ियों के लिए क्रीम के नाम
फटी एड़ियों के लिए क्रीम के नाम

दोस्तों अगर आपको बिना घरेलू उपाय अपनाए एंटीबायोटिक दवाओं के जरिए फटी एड़ियों का इलाज करना है, आपको हम कुछ ऐसी क्रीम बता रहे हैं, जिनके इस्तेमाल से अपनी फटी एड़िया सुधार सकते हैं |

पतंजलि क्रैक हील क्रीम :

पतंजलि क्रैक हील क्रीम
पतंजलि क्रैक हील क्रीम

पतंजलि क्रैक हील क्रीम 21 जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल करके बनाई जाती है,  यह क्रीम एड़ी की दरारें और त्वचा की समस्याओं को ठीक करने में बहुत फायदेमंद है | यह क्रीम आपको फटी एडियो पर लगाना होता है | और हलके हाथो से मसाज करना जरूरी है | इस क्रीम को बनाने के  घृत कुमारी (एलोवेरा), कपूर ,कायाकल्प, और गेहूं का इतेमाल किया होता है | इस दवाई के किसी भी प्रकार के साइड इफ़ेक्ट नहीं होते है |

बायोलिन क्रैक हील क्रीम :

बायोलिन क्रैक हील क्रीम
बायोलिन क्रैक हील क्रीम

बायोलिन क्रैक हील क्रीम यह केमिकल युक्त एंटीबायोटिक्स के मदद से बनाई हुई है | जो बहुत असरदार तरीके से और जल्द ही फायदेमंद साबित होती है | बायोलिन क्रैक हील क्रीम को डॉक्टर की सलाह अनुसार लगाए | यह दवाई आपको सीधा फटी एडियो के भीतर लगानी होती है | यह दवाई एडियो में फैले हुए बक्टेरिया को मार कर एडियो को सुधार ने में मदद करता है |

क्रैक हील रिपेयर क्रीम :

क्रैक हील रिपेयर क्रीम
क्रैक हील रिपेयर क्रीम

यह क्रीम लगाने से पहेले आपको पैरो को अच्छे से साफ कर ले गर्म पानी से धो ले, और पैरो की धुल मिट्टी निकाल ले फिर इस क्रीम को लगाये | इस क्रीम में बक्टेरिया के खिलाफ लड़ने के तत्व होते है , जो आपके पैरो के एडियो को सुधर ने में मदद करते है | यह क्रीम त्वचा को मुलायम और सॉफ्ट बनाती है | इस क्रम का इस्तेमाल डॉक्टर के सलाह नुसार करे ताकि आपको किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट्स को झेलना नया पड़े |

दोस्तों, हमारे चेहरे की तरह ही हमें अपने पैरों की भी देखभाल करनी चाहिए। ज्यादा तकलीफ़ होने पर एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें और स्वस्थ रहें। धन्यवाद।

Leave a Comment