डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय

डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय बताने वाले हैं | जिन लोगों को डेंगू यह रोग होता है उन लोगों को हमेशा कमजोरी महसूस होते रहती है | डेंगू यह रोग एडीज नामक मच्छर से होता है, यह मच्छर इतना भयंकर होता है कि जब यह मच्छर किसी इंसान को चबा लेता है तो उस इंसान को डेंगू की बीमारी हो जाती है | देखा जाए तो दुनिया भर में हर साल डेंगू के कारण हजारों लाखों लोग अपनी जान गवा देते हैं |

डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय
डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय

यह मच्छर मानसून के दिनों में ज्यादा फैलने लगते हैं, क्योंकि इन दिनों में जगह-जगह पर पानी पड़ा हुआ होता है | एक जगह पर बहुत सारे दिनों तक पानी अगर इकट्ठा होता है तो इस पानी पर विभिन्न प्रकार के मच्छर अपना साम्राज्य तैयार कर लेते हैं | इसलिए गंदे पानी के आस पास कभी भी ना जाए, अगर आप गंदे पानी के आसपास पूरे दिन रहते हो तो इससे आपको डेंगू होने की संभावना बढ़ जाती है | बहुत सारे लोग गर्मी के दिनों में घर में कूलर लगाते हैं, घर में कूलर लगाने से कूलर में बहुत दिनों तक पानी पड़ा हुआ रहता है | इस कूलर के पानी में यह मच्छर अंडे देते हैं, जिससे भी डेंगू होने की संभावना होती है | इन सारी छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर आपने डेंगू से मुकाबला करना चाहिए | आपको डेंगू नहीं होना चाहिए इसलिए यह सारी चीजें पहले ही परफेक्ट कर ले जिससे आपको इस गंभीर बीमारी का सामना नहीं करना पड़ेगा | आज हम देखेंगे डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय |

डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय -:

डेंगू के कारण और लक्षण -:

डेंगू के कारण और लक्षण
डेंगू के कारण और लक्षण
  • देखा जाए तो हमने ऊपर जैसा देखा कि डेंगू मच्छर के काटने से होता है | लेकिन जिस व्यक्ति को डेंगू का मच्छर काटता है उस व्यक्ति को डेंगू होता है, अब हम आपको बताना चाहते हैं कि डेंगू वाले मरीज को जब कोई मच्छर काटता है तब वह मच्छर अगर किसी दूसरे व्यक्ति को काटता है तो उस व्यक्ति को भी डेंगू हो जाता है | इसलिए डेंगू के मरीजों ने खुद की निगाह लेने के साथ-साथ हमें कोई मच्छर ना काटे यह खबरदारी लेनी चाहिए |
  • यह रोग अगर फैलने लगा तो बहुत सारे लोग डेंगू से परेशान हो जाएंगे, डेंगू यह रोग ऐसा है जो मनुष्य की जान भी ले सकता है | जब किसी व्यक्ति को डेंगू का रोग होता है तब उस व्यक्ति को तेजी से बुखार आने की शुरूआत हो जाती है | पहले पहले उस व्यक्ति को लगता है कि हमें हल्का सा बुखार है, लेकिन यह बुखार जब अचानक से बढ़ जाता है तब आपने समझ जाना है कि आपको डेंगू की बीमारी हो चुकी है |
  • डेंगू की बीमारी होने पर मनुष्य का सिर दर्द करने लगता है, जोड़ों में और मांसपेशियों में दर्द होने लगता है, अगर आपको हल्का सा काम करके थकान महसूस होती है तो यह डेंगू का लक्षण हे | कई बार डेंगू होने पर शरीर पर लाल लाल चकते बन जाते हैं, डेंगू होने पर पेट खराब होना, पेट में दर्द होना, पेट में कमजोरी होना, चक्कर आना, भूख ना लगना, यह सारे लक्षण दिखाई देते है |

डेंगू का इलाज के घरेलू उपाय -:

डेंगू का इलाज के घरेलू उपाय
डेंगू का इलाज के घरेलू उपाय
  • डेंगू होने पर आपने खुद की ज्यादा से ज्यादा निगाह लेना चाहिए | डेंगू के रोग को भगाने के लिए आपने रोजाना सुबह उठने के बाद एलोवेरा, गेंहू, गिलोय, और पपीते के पत्तों को अच्छी तरह से मिलाकर रस तैयार करना चाहिए | इन चारों चीजों का अगर आप रस पीते हो तो डेंगू का असर आपके शरीर में कम होने लगता है |
  • यह रस डेंगू के मरीजों ने पीने से आपको चमत्कारी फायदा दिखाई देगा, यह उपाय चिकनगुनिया होने पर भी कारगर है | बहुत सारे लोगों को यह रस पीने में गंदा महसूस होता है, क्योंकि इस रस की टेस्ट थोड़ी कड़वी होती है | अगर आपको यह रस नहीं पीना है तो आपने गिलोय का पानी दिन में तीन चार बार पीना चाहिए, जिससे डेंगू के उपचार में आपको फायदा होगा | डेंगू का रोग होने पर खुद की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होना जरूरी होता है |
  • अगर आप हमेशा डिप्रेशन में रहोगे तो इस रोग से आप बाहर नहीं निकल सकते हो | डेंगू के रोग का सामना करने के लिए खुद के मन को और खुद के शरीर को मजबूत बनाना जरूरी है, आपका जिगर जितना मजबूत होगा उतनी ताकत आपको डेंगू का सामना करने के लिए मिलेगी | इसलिए डेंगू होने पर डिप्रेशन में ना जाए |

डेंगू से बचने के कुछ कारगर उपाय -:

डेंगू से बचने के कुछ कारगर उपाय
डेंगू से बचने के कुछ कारगर उपाय
  • डेंगू से बचने के लिए तुलसी बहुत ही उपाय कारक होती है | डेंगू होने पर तुलसी का काढ़ा अगर आप रोजाना पीते हो तो डेंगू का नाश होने में मदद मिलती है | तुलसी के पत्तों की सुगंध से डेंगू के मच्छर आप को काटते नहीं है | क्योंकि डेंगू के मच्छरों को तुलसी की गंध बिल्कुल पसंद नहीं होती है, इसलिए घर के बाहर या घर के अंदर तुलसी का पौधा जरुर लगाएं |
  • तुलसी आयुर्वेदिक दवाई के नाम से जानी जाती है, अगर आप रोजाना तुलसी के पत्तों का सेवन करते हो तो आप इन छोटी-छोटी बीमारियों से आसानी से दो हाथ कर सकते हो | तुलसी, गिलोय, पपीता, यह चीजें डेंगू से बचाव करने के लिए बहुत ही उपयुक्त होती है | रोजाना पपीते का रस पीने से भी आपको डेंगू से राहत मिलेगी, पपीते का सेवन ज्यादा मात्रा में ना करें क्योंकि पपीता गर्म होता है |
  • डेंगू से बचने के लिए आपने घर के बाहर या आसपास कभी भी पानी इकट्ठा नहीं होने देना चाहिए | लंबे दिनों तक जब कहीं जगह पर पानी इकट्ठा होता है तब इस पानी में विभिन्न प्रकार के प्राणी जन्म लेते हैं, इस गंदे पानी में डेंगू के मच्छर फैलना शुरू हो जाता हे, इसलिए  पानी इकट्ठा ना होने दें अगर आपके घर में बहुत दिनों से इसी जगह पर पानी इकट्ठा किया गया है तो इस पानी को जल्द से जल्द निकाले नहीं तो डेंगू के मच्छर बढ़ने लगेगे |
  • घर में मच्छर ना होने के लिए घर में कीटनाशक का इस्तेमाल करने के साथ-साथ मच्छर भगाने का कोइल या मच्छर भगाने का मशीन आप  इस्तेमाल कर सकते हो | रात को सोते समय पूरे कपड़े पहने जिससे मच्छर काटने की संभावना बिल्कुल कम हो जाती है | रात को सोते समय अगर आप मच्छरदानी का इस्तेमाल करते हो तो बहुत ही अच्छी बात है, डेंगू या चिकनगुनिया का रोग ना होने के लिए रोजाना अपने आसपास सफाई पर ध्यान रखें | आप जितना साफ और स्वच्छ रहोगे उतना अच्छा हे |

डेंगू का उपचार लेने के लिए कुछ होम्योपैथिक मेडिसिन -:

डेंगू का उपचार लेने के लिए कुछ होम्योपैथिक मेडिसिन
डेंगू का उपचार लेने के लिए कुछ होम्योपैथिक मेडिसिन
    • Aconite – २००
    • Arsenicum – २००
    • Belladonna – २००
    • Rhus tox – २००
    • Dulcamara – २००
    • Bryonia – २००

यह सारी दवाइयां शरीर में खून बढ़ाने के लिए मदद करती है | इन दवाइयों का सेवन करने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है | इन दवाइयों का सेवन करने से पहले किसी होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह लें, यह है डेंगू का इलाज के रामबाण घरेलू उपाय | दोस्तों अगर आपको हमें कोई सवाल पूछना है तो आप हमें नीचे दिए गए हुए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो |

 

Leave a Comment