दही खाने के फायदे

नमस्ते दोस्तों, कैसे हैं आप? आज का हमारा विषय है दही खाने के फायदे,दही को हमारी संस्कृति में अहम स्थान मिला है। किसी भी शुभ काम को निकलने से पहले दही शक्कर खिलाया जाता है। इसे शुभकामनाओं की तरह देखा जाता है। दही में कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसीलिए, दही का सेवन करना बहुत जरूरी होता है। कई लोगों का दही के बिना खाना पूरा ही नहीं होता! दही को आप अलग-अलग रूप से खा सकते हैं। दही का छांछ, रायता, पराठो के साथ या दही का सीधे तौर पर सेवन किया जाता है। दही में कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम प्रोटीन, विटामिन ( ई, सी, बी २, बी१२, ए ), फोलिक एसिड आदि प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं।

दही का सेवन करने से शरीर को उचित मात्रा में कैल्शियम और प्रोटीन मिलता है। दही का सेवन करने से हमारी हड्डियां तथा पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान होती है। स्वास्थ्य संबंधित फायदों के अलावा, दही बालों और त्वचा की देखभाल करने के लिए भी उपयोग में लाया जाता है। तो दोस्तों, आज जानेंगे दही खाने के फायदे।

दही खाने के फायदे

दही में मौजूद पोषक तत्व इसे एक सुपरफूड बनाते हैं। कम मेहनत में और कम खर्चे में अधिक स्वास्थ्य के लाभ पाना है, तो दही का सेवन जरूर करना चाहिए।

१) वजन घटाना-

दुनिया भर में कई सारी आबादी मोटापे की वजह से परेशान हैं। मोटापे को कम करने के लिए दही काफी कारगर साबित होता है। दही का सेवन करने से शरीर में कोर्टिसोल और स स्टेरॉइड हार्मोन का स्राव नियंत्रित रहता है। यह हारमोन वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होते हैं। इसीलिए, दही का सेवन करने से इन हारमोंस को कंट्रोल किया जा सकता है; जिस वजह से वजन बढ़ने की संभावना कम हो सकती हैं।

२) वजायनल इंफेक्शन-

कई महिलाओं को अक्सर यीस्ट इंफेक्शन की वजह से वजायनल इंफेक्शन का सामना करना पड़ता है। वजाइना में यीस्ट को बैलेंस करने के लिए दही खाना असरदार होता है। अध्ययन के अनुसार, दही में लैक्टोबैसिलस बैक्टीरिया होते हैं; जो वजाइनल इन्फेक्शन को रोकने में असरदार होते हैं। इसीलिए, जिन महिलाओं को वजाइनल इन्फेक्शन हो रहा हो; उन्हें तुरंत दही का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए।

३) हृदय स्वास्थ्य-

दही का सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से रोका जा सकता है। कोलेस्ट्रोल का स्तर कम होने से शरीर में ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है। अगर ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता हो; तो हमारा दिल भी स्वस्थ रहता है। इसीलिए, दही का सेवन दिल की सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। दही का अपने आहार में रोजाना समावेश करें; जिससे आपका कोलेस्ट्रोल और बीपी कंट्रोल में रह सकते हैं।

४) दांत और हड्डियां-

दांत और हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम बहुत ही जरूरी होता है। शरीर में कैल्शियम की कमी होने से दांतों और हड्डियों पर उसका सीधा प्रभाव पड़ता है। दांत और हड्डियों की मजबूती बनाए रखने के लिए दही का सेवन करना चाहिए। दही में उचित मात्रा में कैल्शियम और फास्फोरस पाया जाता है। इसीलिए, दही का सेवन करने से शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस की कमी नहीं होती है और दांत, हड्डियां मजबूत होते हैं।

५) इम्यूनिटी-

दही में पोषक तत्वों के साथ, एंटी ऑक्सीडेंट भी मौजूद होते हैं। दही को एक हैल्दी प्रोबायोटिक के रूप में देखा जाता है। यह दोनों ही गुण शरीर में रोग प्रतिकारक क्षमता को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। दही का सेवन करने से हमारी रोगप्रतिकारक क्षमता बढ़ती है। जिस कारण हम किसी भी संक्रमण से लड़ने के लिए सक्षम होते हैं।

६) पाचन तंत्र-

धीमे पड़े पाचन तंत्र को गति देने के लिए दही का सेवन किया जाता है। ज्यादा तीखा, मसालेदार एवं चटपटा खाना खाने से कई बार हमें एसिडिटी, कब्ज, अपच, गैस की समस्या हो जाती हैं। दही का सेवन करके अपने पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान कर सकते हैं। दही का सेवन हमारे आंतों को भी स्वस्थ और मजबूत रखता है। दही से बनी छाछ का सेवन करने से भी हमारे पाचन तंत्र को गति मिलती है।

७) मधुमेह-

डायबिटीज में मरीजों को ब्लड शुगर लेवल के साथ-साथ, कई अन्य चीजों का भी ध्यान रखना होता है। डायबिटीज के मरीजों को गुप्त अंगों की खुजली, इंफेक्शन देखने को मिलते हैं। ऐसे में, दही का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। दही का सेवन करने से गुप्त अंगों की खुजली, इन्फेक्शन और एलर्जी कम होती है। इसी के साथ, दही खाने से ब्लड शुगर लेवल पर कंट्रोल किया जाता है।

८) त्वचा की देखभाल-

दही ना सिर्फ स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है; बल्कि त्वचा के लिए भी यह काफी गुणकारी होता है। संतरे के छिलके के पाउडर में दही मिलाकर लगाने से रंग गोरा होता है। झुर्रियों से छुटकारा पाने के लिए दही और नींबू का रस लगाना चाहिए। शहद और बादाम के साथ में दही मिलाकर लगाने से चेहरे की डेड स्किन सेल्स निकल जाती है और चेहरे में निखार आता है। गुलाब जल और हल्दी के साथ दही मिलाकर लगाने से चेहरे पर निखार आता है और चमक बढ़ती हैं।

९) बालों की देखभाल-

त्वचा के साथ-साथ, दही का सेवन करने से और दही लगाने से बालों में भी चमक बढ़ती हैं और उनका स्वास्थ्य बना रहता है। बालों में डैंड्रफ की समस्या से छुटकारा पाने के लिए दही के साथ काली मिर्च मिलाकर बालों की जड़ों पर लगाने से फायदा देखने को मिलता है। दही एक नेचुरल कंडीशनर के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। बालों की जड़ों पर दही लगा ले और १५-२० मिनट तक ऐसे ही रहने दे। बाद में सॉफ्ट शैंपू से बाल धो डालें। इस प्रयोग से आपके बालों को पोषण प्रदान होकर उनका रूखापन, रूसी की समस्या से राहत मिलेगी और बाल मुलायम होंगे।

दोस्तों, बाजार में मिलने वाला २०-३० रुपयों का दही हमारे स्वास्थ्य के लिए इतना गुणकारी साबित हो सकता है। बस एक बात का ध्यान रखें, कि रात में दही का सेवन नहीं करना चाहिए। आयुर्वेद के अनुसार यह वर्जित है। रात में दही का सेवन करने से हमारे शरीर में कफ की प्रबलता बढ़ती है और कई समस्याएं बढ़ सकती हैं।

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का दही खाने के फायदे यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : चेहरे के पिंपल्स हटाने का तरीका क्या है

Leave a Comment

error: Content is protected !!