धनिये का जूस लीवर और किडनी करेगा साफ

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज का हमारा विषय है धनिये का जूस लीवर और किडनी करेगा साफ, हमारे शरीर का हर एक अंग बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। शरीर के हर एक अंग का कार्य निर्धारित है और शरीर का स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए शरीर का हर एक अंग स्वस्थ होना बहुत ही जरूरी होता है। इन्हीं अंगों में से दो अंग है, लीवर और किडनी। यह दोनों ही अंग शरीर के बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य करते हैं। लीवर शरीर को डिटॉक्सिफाई करता है, शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है, रक्त की शुद्धि करता है, सारे पोषक तत्व को इकट्ठा करके पित्त को बाहर निकालता है; यह प्रक्रिया भोजन के पाचन क्रिया में भी मदद करती है। लीवर कार्बोहाइड्रेट्स को तोड़ने में और ग्लूकोज बनाने में भी काफी महत्वपूर्ण रोल निभाता है। इसीलिए, लीवर का स्वस्थ होना बहुत ही जरूरी होता है।

लीवर के साथ-साथ, किडनी शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। किडनी शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालते हैं, रक्त शुद्ध करती हैं, शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को हटाने का काम करती हैं। इसी के साथ, किडनी कई सारे हार्मोन्स सीक्रेट करती हैं; जो शरीर के कई अंगों के लिए उपयुक्त होते हैं। किडनी पर बुरा प्रभाव पड़ने से शरीर को कई सारी बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इसीलिए, किडनी का स्वस्थ होना बहुत जरूरी होता है। किडनी स्वस्थ रहने से हम पथरी और मूत्राशय से संबंधित परेशानियों से बच सकते हैं तथा ब्लड प्रेशर प्रेशर को नियंत्रित रख सकते हैं। किडनी और लीवर को स्वस्थ तथा साफ बनाए रखने के लिए धनिया का जूस काफी मददगार साबित होता है। तो दोस्तों, आज जानेंगे धनिये का जूस लीवर और किडनी करेगा साफ

धनिया के पोषक तत्व-

धनिया के पत्ते तथा डंडियों में कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें फाइबर, विटामिन सी, मैंगनीज, मैग्निशियम, आयरन, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, विटामिन के, फोलिक एसिड, बीटा कैरोटीन जैसे कई खनिज और विटामिन की मात्रा पाई जाती हैं। इसी के साथ, धनिया के पत्ते में एंटी ऑक्सीडेंट, न्यूरोप्रोटेक्टिव, एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबॉयल जैसे तत्व पाए जाते हैं। 

लीवर और किडनी के लिए धनिया का जूस

लिवर और किडनी को स्वस्थ तथा साफ बनाए रखने के लिए धनिया के पत्ते का जूस काफी फायदेमंद साबित होता है। धनिया के पत्ते में मौजूद पोषक तत्व से हमें पता चल ही गया होगा, कि धनिया सिर्फ गार्निशिंग के लिए ही नहीं; बल्कि कई सारे रोगों से लड़ने के लिए भी बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

१) नींबू और धनिए का जूस-

एक बर्तन पानी में ले और उसमें एक नींबू निचोड़ लें, कुछ मसले हुए धनिए के पत्ते मिलाकर अच्छे से मिक्स कर ले। इस जूस का सेवन आप खाली पेट लगातार ६ दिन तक करें। इस जूस में इस्तेमाल किया गया नींबू आपके पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है, लिवर को डिटॉक्सिफाई करता है और वजन नियंत्रित रखने में भी मदद करता है। इसी के साथ; धनिया लीवर से विषैले पदार्थ बाहर निकालता है, पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है और इम्युनिटी बढ़ाता है। नींबू और धनिया के जूस का सेवन करने से लीवर को मजबूती मिलती है और लीवर की कार्यप्रणाली में सुधार आता है।

 नींबू और धनिया के पत्ते में मौजूद कई सारे पोषक तत्व किडनी को स्वस्थ बनाए रखते हैं और किडनी से गंदगी को बाहर निकालते हैं। नींबू और धनिया के इस जूस का सेवन करने से किडनी को मजबूती प्रदान होती है और किडनी की कार्यप्रणाली सुधरती है।

२) धनिए का पानी-

धनिया का पानी बनाना काफी आसान है। इसके लिए आपको एक बर्तन में पानी लेना है और उसमें धनिया के पत्ते डाल देना है। लगभग १०-१५ मिनट तक इस पानी को उबालना है। गैस बंद करके पानी ठंडा कर लेना है और एक साफ बोतल में इस पानी को भर लेना है। आप कुछ दिनों तक इस पानी का सेवन कर सकते हैं। इस पानी का सेवन करने से धनिया में मौजूद पोषक तत्व आपके शरीर को मिलते हैं और इससे लीवर की गंदगी भी साफ हो जाती हैं।

 किडनी को स्वस्थ बनाए रखने के लिए भी आप इस पानी का सेवन कर सकते हैं। धनिया के पत्ते में मौजूद पोषक तत्वों से किडनी को काफी लाभ मिलते हैं और किडनी की कार्यप्रणाली सुचारू रूप से चलती हैं। इसी के साथ, धनिया के पत्ते का पानी पीने से किडनी से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। 

३) अजवाइन और धनिए का जूस-

अजवाइन का सेवन भी हमारे पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है। अजवाइन में भी काफी पोषक तत्व पाए जाते हैं; जो हमारे लिवर और किडनी के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं। एक मुट्ठी धनिए के पत्ते ले और उन्हें अच्छे से धो लें। एक लीटर पानी में धनीया के पत्ते और थोड़ी अजवाइन डालकर इस पानी को १५ मिनट तक उबालें। पानी को ठंडा कर ले और रोज सुबह खाली पेट इस पानी का सेवन करें। इसमें मौजूदा धनिया और अजवाइन आपके पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है और लीवर तथा किडनी से विषैले पदार्थों को बाहर निकाल देता है। 

४) गिलोय और धनिया का जूस-

गिलोय में कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं; जो हमारी इम्यूनिटी को बढ़ावा देते हैं। गिलोय एक बहुत ही लाभकारी जड़ी बूटी होती हैं। गिलोय का धनिया के साथ सेवन करने से शरीर को अधिक लाभ मिलते हैं। इस जूस को बनाने के लिए आपको लौकी, गिलोय, धनिया, हल्दी, नींबू और काला नमक की आवश्यकता होगी।

एक लौकी को छीलकर उसमें धनिया मिलाए और मिक्सी में अच्छे से जूस निकाल लें। इस जूस को छान लें और इस जूस में नींबू का रस, हल्दी, काला नमक और २० मिली गिलोय का जूस मिलाकर अच्छे से मिक्स कर ले। रोजाना सुबह खाली पेट इस जूस का सेवन करें। इससे आपके लिवर और किडनी दोनों ही स्वस्थ रहेंगे। इस जूस का सेवन करने से एंटीऑक्सीडेंट के लाभ मिलते हैं, जिससे लीवर और किडनी डिटॉक्सिफाई हो जाते हैं। ध्यान रहे, कि इस जूस का सेवन करते समय आप बाहर का खाना या जंक फूड से परहेज करें। 

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का धनिये का जूस लीवर और किडनी करेगा साफ यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : ऑईल पुलिंग के फायदे और नुकसान

Leave a Comment

error: Content is protected !!