ज्यादा भूख लगने का कारण क्या होता है

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज का हमारा विषय है ज्यादा भूख लगने का कारण क्या होता है,भूख लगना हमारे शरीर की एक आम और प्राकृतिक प्रतिक्रिया है। भूख लगने पर हम खाना खाते हैं और हमारी भूख मिट जाती है। यह नॉर्मल प्रोसेस होती है। खाना खाने से हमारे शरीर को उचित प्रकार का पोषण मिलता है और शरीर की सारी गतिविधिया उचित रूप से होती हैं। अगर आप  जिम में कसरत करते हैं, तो आपको ज्यादा भूख लगती हैं और ज्यादा खाने का मन होता है। अगर आप गर्भवती हैं, तब भी आपको ज्यादा भूख लग सकती हैं।

बीमार होने के बाद हमें ज्यादा भूख का एहसास होता है, ऐसे में हम ज्यादा खाना खाते हैं। लेकिन, कई बार लोगों को जरूरत से ज्यादा भूख लगने लगती है। ऐसे लोगों में चिड़चिड़ाहट, सिर दर्द, किसी भी काम में मन ना लगना आदि समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। इसीलिए, लगातार ज्यादा भूख लगती है; तो यह किसी दूसरी बीमारियों किसी खतरे का संकेत भी हो सकता है। तो आइए, दोस्तों आज जानते हैं ज्यादा भूख लगने का कारण।

ज्यादा भूख लगने के कारण

जरूरत से ज्यादा भूख लगना किसी बीमारी का संकेत हो सकता है। इसीलिए, इस बात को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। 

१) पी एम एस-

प्रीमेंस्ट्रूअल सिंड्रोम के दौरान ज्यादा भूख लगने की संभावना होती है। यह सिंड्रोम महिलाओं के महावारी के दूसरे चरण में शुरू होता है और लगातार दो से तीन दिन तक रहता है। इस दौरान महिलाओं को पेट में दर्द, कब्ज, ज्यादा भूख लगना और सिरदर्द जैसी समस्याएं हो जाती हैं। महिलाओं में पीएमएस ज्यादा भूख लगने का कारण हो सकता है।

२) टाइप टू डायबिटीज-

डायबिटीज के पेशेंट को ज्यादा भूख लगने की तकलीफ होती है। क्योंकि, डायबिटीज के मरीजों में इंसुलिन की मात्रा पर्याप्त नहीं होती है। शरीर की हर एक सेल ब्लड शुगर लेने के लिए इंसुलिन पर निर्भर होती है। इसी कारण, शरीर के हर पेशी को ब्लड शुगर उचित मात्रा में नहीं मिलता है। मतलब, इंसुलिन अगर पर्याप्त  मात्रा में ना हो; तो शुगर रक्त में मिल जाती है, लेकिन वह सेल तक नहीं पहुंच पाती। इसी कारण, सेल्स ब्रेन को यह संदेश पहुंचाती है, कि ज्यादा खाने की जरूरत है। इसी वजह से डायबिटीज के मरीजों को बार बार भूख लगती हैं और वह बार-बार खाते रहते हैं।

३) हाइपर थाइरोएडिज्म-

कुछ लोगों के आहार में फाइबर की कमी होने के कारण भी ज्यादा भूख लगने की समस्या हो सकती है। फाइबर युक्त खाना खाने से पेट लंबे समय तक भरा हुआ महसूस होता है और खाना धीरे-धीरे पचता है। फाइबर युक्त खाना खाने से भूख को कंट्रोल करने में काफी हद तक मदद मिलती है  ऐसे में, जिन लोगों के आहार में फाइबर कम मात्रा में होता है; उन लोगों को ज्यादा भूख लगने की समस्या हो सकती है।

५) कम फैट्स का डाइट-

अंडे, फैटी फिश, दही, अखरोट जैसे फैट युक्त पदार्थों को अपने आहार में जरूर समावेश करें। कम फैट्स वाला खाना खाने से भी कई लोगों को ज्यादा भूख लगने की दिक्कत हो सकती है। फैट्स हमारे पेट को ज्यादा देर तक भरे रहने का एहसास दिलाता है और भूख कम मात्रा में लगती है।

६) पर्याप्त नींद ना लेना-

पर्याप्त मात्रा में नींद लेने से भूख के संकेत देने वाला हार्मोन ग्रेलिन शरीर में नियंत्रित रहता है; जिसके कारण ज्यादा भूख का एहसास नहीं होता है। वहीं दूसरी ओर, अगर आप पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेते हैं; तो यह हार्मोन शरीर में बढ़ जाता है और ज्यादा भूख लगने का एहसास होता है। जो लोग पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेते हैं, उन लोगों को ज्यादा भूख लगने की दिक्कत होती है। इसीलिए, इस समस्या से निपटने के लिए रोजाना ८ घंटे की नींद जरूर लें।

७) स्ट्रेस-

जब हम तनाव में होते हैं, तो हमें ज्यादा भूख लगती हैं। लेकिन, हम उस बात पर ध्यान नहीं देते हैं। तनावग्रस्त जीवन पद्धति या ज्यादा मात्रा में स्ट्रेस लेना, ज्यादा भूख लगने का कारण हो सकते हैं। तनावग्रस्त रहने से हमारे मस्तिष्क पर दबाव आता है और मस्तिष्क के एड्रेनालाईन और सीआरएच जैसे हार्मोन्स सीक्रेट होते हैं। यह हार्मोन भूख बढ़ाने का संकेत देते हैं। तनाव को कम करने के लिए आप मेडिटेशन, योग प्राणायाम, एक्सरसाइज का सहारा ले सकते हैं।

दोस्तों, कई बार हम ज्यादा भूख लगने पर हम अपना ही मजाक बना लेते हैं। लेकिन, अगर यह समस्या बार-बार हो रही हो; तो आप इस पर जरूर गौर करना चाहिए। क्योंकि, यह कई बड़ी बीमारियों का संकेत हो सकता है।

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का ज्यादा भूख लगने का कारण क्या होता है यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : अंडे का सफेद भाग खाने के फायदे

Leave a Comment

error: Content is protected !!