ज्यादा चावल खाने से क्या होता है

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज का हमारा विषय है ज्यादा चावल खाने से क्या होता है,हमारे भारत देश में हर एक प्रदेश, राज्य का अपना अलग एक महत्व होता है। हर एक राज्य की कल्चर, कला, खानपान की पद्धति, पहनावे की पद्धति अलग-अलग होती है। किसी विभाग में गेहूं की रोटी खाई जाती हैं, किसी में ज्वार, बाजरे की रोटी, कहीं मक्के का रोटी, कहीं चावल अधिक मात्रा में खाते हैं; ऐसे अलग-अलग खानपान की पद्धति होती है। संतुलित आहार, योग्य रीति का व्यायाम और उचित मात्रा में सप्लीमेंट्री फूड संतुलित एवं सेहतमंद जीवन के लिए बहुत ही आवश्यक होते हैं। हमारा आहार संतुलित रहे, तो हमारी सेहत और हमारी जीवन पद्धति संतुलित बनी रहती हैं।

किसी भी आहार का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर को कई बार नुकसान देखने को मिलते हैं। भारत देश के कई विभागों में चावल ज्यादा मात्रा में खाया जाता है। ऐसे भी लोगों को रोटी के बजाय चावल खाना ही ज्यादा पसंद होता है। चावल में आयरन, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, सेलेनियम, थायामिन, फास्फोरस, फाइबर जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इन सभी पोषक तत्वों की वजह से चावल खाने से हमें उचित मात्रा में पोषण मिलता है। लेकिन, किसी भी पदार्थ का अधिक मात्रा में सेवन करने से जैसे शरीर को नुकसान होता है। वैसे ही, अधिक मात्रा में चावल खाना नुकसानदायक भी हो सकता है। तो दोस्तों, आज जानेंगे ज्यादा चावल खाने से होने वाले फायदे और नुकसान।

ज्यादा चावल खाने के फायदे

सीमित मात्रा में चावल का सेवन करने से शरीर को कई सारे फायदे देखने को मिलते हैं।

१) पाचन तंत्र-

सफेद चावल खाने से पाचन तंत्र को मजबूती मिलती हैं। चावल का सेवन करने से पेट की समस्याएं जैसे गैस, कब्ज, एसिडिटी, उल्टी से राहत मिलती है। सफेद चावल में फाइबर होता है, जो इसे आसानी से पचाने में मदद करता है। इसलिए, इसका सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। इसी के साथ, चावल खाने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा भी कम होती है।

२) एंटी इन्फ्लेमेटरी-

चावल में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्व हमारी आंतों के इंफेक्शन तथा सूजन में काफी फायदेमंद होते हैं।

इसी के साथ, चावल ग्लूटेन फ्री होते हैं। इसलिए, अगर आपको ग्लूटेन से एलर्जी है; तो आप चावल का सेवन कर सकते हैं।

३) बूस्ट्स एनर्जी-

शरीर में उर्जा बनाए रखने के लिए हमें कार्बोहाइड्रेट की जरूरत होती है। चावल में पर्याप्त मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स मौजूद होते हैं। इसीलिए, चावल का सेवन करने से हमारी एनर्जी बढ़ती है। ब्राउन राइस में मौजूद मिनरल्स और विटामिंस पाचन क्रिया को बढ़ावा देते हैं, जिससे हमारी एनर्जी बनी रहती हैं।

४) त्वचा-

आजकल घर पर प्राकृतिक रूप से स्किन केयर के लिए “डीआयवाय” पद्धति काफी प्रचलित हो रही है। ऐसे में, अगर आप भी प्राकृतिक तरीके से त्वचा की देखभाल करना चाहती हैं; तो चावल का उपयोग आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। 

चावल को खाने से तथा चावल का पाउडर और पानी त्वचा की समस्याओं के लिए काफी उपयुक्त होता है। ब्राउन राइस में मौजूद फेनोलिक कंपाउंड स्किन की इरीटेशन, इचिंग, इंफेक्शन को कम करने में मदद करता है। चावल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा की एजिंग प्रोसेस को रोकता है और एजेंट के लक्षणों को भी कम करता है।

ज्यादा चावल खाने के नुकसान

बहुत सारे लोग चावल खाना पसंद करते हैं। वह दिन रात दोनों टाइम खाने में चावल खाते हैं। क्योंकि, रोटी के बजाय चावल बनाने में कम टाइम लगता है। इसी के साथ, कई लोग ऐसे भी होते हैं, जिनको लगता है चावल खाने से उनका वजन बढ़ जाएगा। इसलिए, वह चावल बिल्कुल भी नहीं खाते हैं। तो ऐसा करना गलत होता है। कम अधिक मात्रा में खाने से बेहतर है, कि पर्याप्त मात्रा में कोई भी चीज खाई जाए। अधिक मात्रा में चावल का सेवन करने से शरीर को कोई नुकसान भी देखने को मिलते हैं।

१) मधुमेह-

चावल में कैलरी पाई जाती है। अधिक मात्रा में चावल का सेवन करने से शरीर में कैलरी बढ़ती है; जिससे हमें डायबिटीज होने का खतरा बना रहता है। डायबिटीज के मरीजों को भी डॉक्टर चावल ना खाने की सलाह देते हैं, क्योंकि उनकी ब्लड शुगर लेवल का लेवल बढ़ सकती है। 

२) वजन बढ़ना-

जैसे कि हमने देखा, पके हुए चावल में कैलेरिज की मात्रा ज्यादा होती हैं। ऐसे में, अगर आप दिन भर चावल का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं; तो आपके शरीर में कैलेरिज बढ़कर आपका वजन बढ़ सकता है। इसीलिए, अगर आपका वजन पहले से ही अधिक है या बढ़ रहा है; तो चावल का सेवन नियंत्रित करना चाहिए।

३) सुस्ती-

दोपहर में पेट भर दाल चावल खाने के बाद हम १-२ घंटे तक ठीक तरह से काम नहीं कर पाते हैं। क्योंकि, चावल खाने के बाद शरीर के ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाती है और हमें नींद आने लगती हैं। चावल का सेवन करने के बाद सुस्ती महसूस होने लगती हैं।

४) पेट संबंधित समस्याएं-

सफेद चावल में फाइबर बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है। इसीलिए, सफेद चावल का अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके पेट में गैस, पेट फूलना, अपच की समस्या हो सकती हैं। अगर आपको चावल खाना ही है, तो ब्राउन राइस का सेवन करना चाहिए; वह ज्यादा हेल्दी होता है।

दोस्तों, हमारा आहार हमेशा ही संतुलित होना चाहिए। उसमें हर प्रकार के अनाज की रोटी, दाल, चावल, फल, सब्जियों का समावेश होना चाहिए। अधिक मात्रा में किसी भी चीज का सेवन करने से हमें नुकसान ही देखने को मिलते हैं।इसीलिए, उचित मात्रा में चावल का सेवन कीजिए और उसके स्वास्थ्यवर्धक लाभ उठाइए। 

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का ज्यादा चावल खाने से क्या होता है यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

अधिक पढ़ें : एयर प्यूरीफायर क्या होता है और कैसे काम करता है

Leave a Comment

error: Content is protected !!