जुआ जीतने का मंत्र इन हिंदी में

Satta jitne ka mantra hindi सभी को जुआ जीतना पसंत होता है आज हम आपको जुआ जितने के टोटके और आसान तरीके बताने वाले है| जुआ जितने के उपाय क्या है|

जुआ जीतने का मंत्र इन हिंदी
जुआ जीतने का मंत्र इन हिंदी

जुआ जीतने का तरीका

आप शनिवार को एक गुटिका खरीद के ले आई है| और उसे अपने मंदिर में रख दीजिए| अगले दिन यानी कि रविवार की सुबह उठकर आप एक दीपक प्रज्वलित कीजिए| और साथ ही साथ 21 दिनों तक 21 हजार बार आप इस मंत्र का जप कीजिए मंत्र इस प्रकार है| जुआ जीतने का मंत्र|

ओम नमो वीर बेताल आकस्मिक धन देहि देहि नमः

इस मंत्र का जाप आपको लगातार 21 दिनों तक 21 हजार बार करना है| इसके बाद वह जो गुटिका है| उसकी सिद्धि हो जाएगी और उसको गुटीका को आप अपनी जेब में रख दें| और जब भी आप जुआ खेलने जाए तो आपको कभी भी किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होगा| आपको बस आपके साथ गुटिका लेकर देखेलना होंगा| जिससे की आप हमेशा सटा जीत जाये|

जुआ कैसे जीते

सही तरके से कर पाएंगे और उसमें जीत पाएंगे आपको बस करना यह है| कि आपको तीन ताश के पत्ते लेने हैं| और वह तीनों एके होने चाहिए उन तीनों एको को ताश के पत्तों के दो दो टुकड़े कर लीजिए| उसके बाद आप टुकड़ो को लाल धागे में बांध लीजिए| लाल धागे में बांधने के बाद उसके ऊपर किसी भी लाल रंग के पेन से यह मंत्र लिखिए|

क्रीम क्राम नमः क्रीम क्राम नमः क्रीम क्राम नमः

 सट्टे का मंत्र आपके पत्ते के ऊपर लिखना है| और फिर उसे किसी सुनसान जगह में जाकर किसी गड्डे के अंदर डाल कर दबा देना है| और वापस आते वक़्त पीछे मुड़कर नहीं देखना है| बस आपको इतना सा ही करना है| यही जुआ जितने का यंत्र है|

जुआ जितने का चमत्कारी यंत्र

यह सट्टे का चमत्कारी यंत्र है जो आजमाया हुआ है| इस यंत्र को बनाने की विधि इस यंत्र को बनाने के लिए दीपावली होली अमावस्या जा सकता है| और इसको बनाने के लिए सबसे पहले आपको सारी बाते कर लेनी च्याहिये| यंत्र को अष्टगंध से भोजपत्र पर इसको लिखना है| बहुत लोगों की समस्या थी करने के लिए आपको बता दें अनार की कलम से केले के पत्ते पर इसे लिखे  उसके बाद 23 पुष्प रख दे| इसका पूर्ण विधि विधान से पूजा करें इसका पूजन कर लेने के बाद| माता लक्ष्मी जी से अपनी प्रार्थना करते हुए आपने इसका निर्माण किस कार्य के लिए दिया है| उसमें आपको सदैव सफलता मिले| आपको यह तंत्र कभी निराशा का मुंह नहीं दिखाएगा| सिर्फ आपको विधि-विधान से इसका निर्माण किया अपना किसी, चांदी के ताबीज में डालकर गले में धारण कर लीजिए| सावधानियां रखे इस दौरान अपने मांस मदिरा के सेवन से दूर रहना है| इसे पहनने के पूर्ण रुप से शुद्ध है| या नहीं कुछ भी गलत कार्य न करें| और किसी से भी इस बात का  जिक्र ना करे| कि आपने ऐसे ऐसे ही यंत्र बनाया है| और आप कहां से हैं पर सब कुछ सही हो रहा है| आपने यंत्र बनाया है और कहीं से भी कथा पटाना हो| इस बात को तो बिल्कुल भी हार जीत पर किसी को कुछ ना कुछ आप देते रहिये| बस इस बात का ध्यान रखें और इसका नियम पूर्वक द्वारा किसी भी प्रकार के मुख्य रूप से करे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here