भोजपत्र वशीकरण मंत्र 

भोजपत्र वशीकरण
भोजपत्र वशीकरण

ॐ नमहः सर्व लोकः वशं करायः कुरु कुरु स्वाहः

भोजपत्र वशीकरण विधि :

किसी पुष्य नक्षत्र में एक लाख बार मंत्र को जप कर एवं भोजपत्र में लिखकर यदि आप अपने पर्स में या फिर हाथ में बांध लेते हैं तो आपके अंदर एक सम्मोहन शक्ति उत्पन्न हो जाती है जिससे आप किसी को भी सम्मोहित कर सकते हैं एवं अपने कार्यों की पूर्ति उसके द्वारा करा सकते हैं।

भोजपत्र से पत्नी का वशीकरण :

यदि आपकी पत्नी  आप से प्रेम नहीं करती है तो अपनी पत्नी को अपने वश में करने के लिए स्नान कर स्वच्छ किसी रविवार को रात को आसन लगा कर बैठ जाए और भोजपत्र में मंत्र लिख दें एवं मंत्र में आमुख के स्थान पर अपनी पत्नी का  या प्रेमिका का नाम लिखते हैं एवं इस समय आपको लगातार या मंत्र जपते रहना है इन मंत्रों का आप को सवा लाख बार जप करना है मन मंत्र जाप समाप्त होने पर भोजपत्र पर लिखा मंत्र अभिमंत्रित हो जाएगा और उसका आप एक यंत्र बना लें एवं कामाख्या देवी का स्मरण करते हुए अपनी मनोकामना सिद्धि के लिए  प्रार्थना करें आपकी पत्नी या प्रेमिका आपकी तरफ  आकर्षित  होना प्रारंभ कर देगी और कुछ ही समय में वह आपके वश में होगी एवं आपकी इच्छाओं की पूर्ति करने लगेगी|

भोजपत्र पत्नी का वशीकरण मंत्र :-

ॐ नमः कामाख्यः देवी अमुकं मे वशंमः करी स्वाहः

भोजपत्र से पति का वशीकरण –

यदि पति पत्नी के बीच प्रेम में मधुरता कम हो गई है या आपके पति का किसी अन्य महिला के साथ कोई संबंध है तो आप अपने पति को मंत्रों के द्वारा अपने वश में कर सकते हैं तथा अपनी सौतन से पूर्ण रुप से छुटकारा पा सकती हैं इसके लिए आपको सुबह स्नान कर स्वच्छ होकर भोजपत्र में मंत्र लिखकर 108 बार जप करना चाहिए और मंत्र में अमुक के स्थान पर अपने पति का नाम लिखना चाहिए मंत्र को भोजपत्र में लिखने के लिए अपनी अनामिका उंगली के रक्त का प्रयोग करना चाहिए और उस भोजपत्र के टुकड़े को  मंत्र  समाप्ति के पश्चात किसी  शहद की शीशी में डुबोकर एकांत स्थान पर रख दें कुछ ही समय पश्चात आप पाएंगे  कि आपके पति के स्वभाव में परिवर्तन आया है और उनकी मनोवृति आपके लिए बदली है  धीरे-धीरे वह आपके वश में हो जाएंगे  एवं  अन्य स्त्री का मोह त्याग देंगे।

भोजपत्र पति वशीकरण मंत्र :-

ॐ नमः अदि पुरुषायः अमुकं कुरु कुरु स्वाहः

भोजपत्र से शत्रु नाश करने का विधि –

यदि आपका शत्रु आपको परेशान कर रहा है एवं आपकी के कार्यों में बाधा पहुंचा रहा है तो उसको रोकने के लिए  सुबह स्नान कर स्वच्छ होकर आसन लगा कर बैठ जाए और एक भोजपत्र  के टुकड़े में अपने शत्रु का नाम लाल चंदन से लिख दें और उस भोजपत्र के टुकड़े को शहद की शीशी में डुबोकर किसी एकांत स्थान पर रख दें कुछ ही समय में आपका शत्रु स्वयं ही समाप्त हो जाएगा या आपको परेशान करना बंद कर देगा ।

हत्था जोड़ी से वशीकरण करने का मंत्र 

पानी से वशीकरण के टोटके

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here